19 से 25 अप्रैल तक/19th to 25th April- 2021

‘सप्ताह का प्रादर्श-48’
(19 से 25 अप्रैल, 2021 तक)

कोविड-19 महामारी के प्रसार के कारण दुनिया भर के संग्रहालय बंद है लेकिन यह सभी अपने दर्शकों के साथ निरंतर रूप से जुड़े रहने के लिए विभिन्न अभिनव तरीके अपना रहे हैं। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय ने भी इस महामारी द्वारा प्रस्तुत की गई चुनौतियो का सामना करने के लिए कई अभिनव प्रयास प्रारंभ किए है। अपने एक ऐसे ही प्रयास के अंतर्गत मानव संग्रहालय ‘सप्ताह का प्रादर्श’ नामक एक नवीन श्रृंखला प्रस्तुत कर रहा है। पूरे भारत से किए गए अपने संकलन को दर्शाने के लिए संग्रहालय इस श्रंखला के प्रारंभ में अपने संकलन की अति उत्कृष्ट कृतियां प्रस्तुत कर रहा है जिन्हें एक विशिष्ट समुदाय या क्षेत्र के सांस्कृतिक इतिहास में योगदान के संदर्भ में अद्वितीय माना जाता है। यह अति उत्कृष्ट कृतियां संग्रहालय के ‘AA’और ‘A’ वर्गों से संबंधित हैं। इन वर्गों में कुल 64 प्रादर्श हैं।

चूनेटा, पीतल का चूना और तंबाकू पात्र

चुनेटा तंबाकू और चूना रखने के लिए पीतल का एक पात्र  है। इस बेलनाकार पात्र के दोनों छोरों पर घुंडियुक्त ढक्कन  हैं। इस पात्र के आंतरिक हिस्से में दो भाग हैं। बड़े भाग का उपयोग तंबाकू रखने के लिए जबकि छोटे भाग का उपयोग चूना रखने के लिए किया जाता है। दोनों ढक्कनों को पीतल की एक जंजीर से जोड़ा गया है। पूरी बाहरी सतह पर फूलों और पत्तियों के जटिल ज्यामितीय रूपांकन हैं। चूनेटा मुख्य रूप से तम्बाकू रखने का एक पात्र है और उपयोगकर्ता के गहरे चाव को व्यक्त करता है। मध्य प्रदेश और पड़ोसी राज्यों में रहने वाले सोनी समुदाय द्वारा इसे तैयार किया गया है। वे मुख्य रूप से आभूषण बनाते हैं और  उपयोगकर्ता की मांग पर विशेष रूप से अन्य उपयोगी और कलात्मक वस्तुएं भी बनाते हैं।

आरोहण क्रमांक – 98.920
स्थानीय नाम – चीना वरनी- चीनी मिट्टी से बना एक बड़े आकार का पात्र
समुदाय – सोनी
स्थानीयता –टीकमगढ़, म.प्र
.
श्रेणी – ‘ए’

OBJECT OF THE WEEK-48
(19th to 25th April, 2021
)

Due to spread of COVID-19 pandemic the museums throughout the world are closed but identifying different innovative ways to remain connected to their visitors. Indira Gandhi Rashtriya Manav Sangrahalaya (National Museum of Mankind) has also taken up many new initiatives to face the challenges posed by this pandemic. In one such step it is coming up with a new series entitled ‘Object of the Week’ to showcase its collection from all over India. Initially this series will focus on the masterpieces from its collection which are considered as unique for their contribution to the cultural history of a particular ethnic group or area. These masterpieces belong to the “AA” & “A” category. There are 64 objects in these categories.

CHUNETA, Lime and tobacco container of Brass

Chuneta is a brass container used for keeping lime and tobacco. It is cylindrical in shape having two hemisperical knobbed lids at both ends. The inner space has two segments. The larger space is used to keep tobacco whereas the shallow space is used for keeping lime or chuna. Both the knobbed lids are connected through a brass chain. The entire outer body has intricate geometric designs with peteled flowers and leaves. The Chuneta is primarily a tobacco container and speaks of the user to be very passionate in nature. It is prepared by the Soni community residing in Madhya Pradesh and neighbouring states. They primarily make jewellery and exceptionally make other utilitarian and art  objects on demand of the user.

Acc. No. – 98.920
Local Name  –  CHUNETA, Lime and tobacco container of Brass
Tribe/Community – Soni
Locality   –  Tikamgarh, M.P.
Category –   ‘A’

# chuneta #limeandtobaccocontainor #brasscontainor #soni #sonicommunity #tikamgarh #madhyapradesh #igrms #museumfromhome #objectoftheweek #ethnograhicobject #museumobject #museumofman #museumofmankind #museumofhumankind  #experienceigrms #igrmsstories #staysafe #covid19